आपातकालीन संचालन केन्द्र

आपातकालीन संचालन केन्द्र के बारे में

जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, गोरखपुर के अंतर्गत जिला स्तर पर एक आपातकालीन संचालन केंद्र (EOC) स्थापना गोरखपुर के कलेक्ट्रेट में स्थित आपदा कार्यालय में संबंधित विभागों व हितधारकों के साथ समन्वय स्थापित करने, आपदा संबंधी सूचनाओं को साझा करना, किसी भी आपात स्थिति से निपटने एवं राहत व बचाव करने हेतु समन्वय स्थापित करने हेतु किया गया।
आपातकालीन संचालन केंद्र (EOC) की कार्यचालन प्रणाली :-
☞ गोरखपुर जनपद के परिक्षेत्र में घटित होने वाली आपदाओं के दौरान त्वरित सहायता के लिए हेल्पलाइन नम्बर (1077) पर प्राप्त किया जाता है।
☞ हेल्पलाइन नम्बर (1077) पर प्राप्त सूचना की वास्तविकता/विश्वनीयता की पुष्टि हेतु आपातकालीन संचालन केंद्र (EOC) के अधिकारियों द्वारा विभिन्न विभागों के परामर्श या संपर्क स्थापित कर किया जाता है।
☞ जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, गोरखपुर के सभी सदस्यों को तुरंत आपात स्थिति के बारे में सूचित किया जाता है।
☞ ईओसी द्वारा सभी संबंधित हितधारकों (जिला अस्पताल, एनडीआरएफ बटालियन, उप जिलाधिकारियों, अग्नि शमन विभाग, पुलिस विभाग, एम्बुलेंस सेवाएं, बाढ़ नियंत्रण डिवीज़न) को त्वरित राहत-बचाव कार्यों का संचालन करने हेतु सतर्क किया जाता है।
☞ तदोपरांत आपातकालीन सहायता/ प्रशासनिक अधिकारियों को घटना के बारे में सूचित किया जाता है।
☞ आपदा प्रतिक्रिया हेतु राहत-बचाव कार्यों में दक्ष विशेषज्ञ एजेंसियां त्वरित रूप से घटना स्थल पर पहुचती हैं और समय-समय पर संबंधित एजेंसियों द्वारा घटनास्थल से संबंधित सूचनाओं का अद्यतन करती हैं।
☞ राहत-बचाव कार्य का नियमित अद्यतन संबंधित हितधारकों व विभागों के साथ एकत्र और साझा किया जाता है।
☞ अंतत:, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, गोरखपुर के अध्यक्ष सह जिलाधिकारी स्थिति का विश्लेषण करने के उपरांत घटनास्थल/इंसिडेंट साइट पर बचाव अभियान को समाप्त करने का निर्णय लेते हैं।

जिला स्तरीय इन्सीडेन्ट रेस्पांस सिस्टम

ऑफसाइट आपातकालीन कार्य योजना

ऑफसाइट आपातकालीन कार्य योजना – रिपोर्ट तैयारी